Breaking News
Join This Site
फेसबुक को बनाने वाली पहली महिला

फेसबुक को बनाने वाली पहली महिला

दोस्‍तो आज मेरे हाथ एक कम्‍प्‍यूर की पत्रिका हाथ लगी उस पत्रिका का नाम है कंम्‍प्‍युटर संचार सूचना उस पत्रिका में एक लेख को पढा जैसा की आप मेरे हेडिंग से जान गये होगे चलीये तो आज बात करते है कि कैसे एक महिला ने फेसबुक को लो‍कपिय बनाया मै उसी तरह से बताउगां जैसे कि कंम्‍प्‍यूटर संचार सूचना में बताया गया है और यह मेरी अमानत भी नही  
तो चलीये इसे शुरू करते है 
फेसबुक का नाम आते ही उससे जुडे सबसे महत्‍वपूर्ण व्‍यक्ति मार्क जुकरबर्ग का नाम सामने आता है, लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि फेसगुक के सबसे विवादित और लोकपिय फीचर न्‍यज फीड को बनाने के पिछे किसका हाथ है , रूचि सांघवी वो नाम हैं जो फेसबुक के कुछ सबसे महत्‍वपुर्ण लोगों में शामिल हैं, रूचि को फेसबुक की पहली महिला इंजीनियर होने का गौरव हासिल है रूचि ने यूजर को इंगेज करके रखने के लिये एक नया फीचर ''न्‍यूज फीड'' बनाया था इस फीचर के कारण फेसबुक को प्रति घंटे लगभग 50 नए यूजर्स मिलने लगे इस फिचर के आने के बाद ही फेसबुक को इतना विशाल रूप मिल पाया
10 लडकों में अकेली महिला इंजीनियर
महाराष्‍ट्र के पुणे की रहने वाली रूचि सांघवी ने फेसबुक उस समय ज्‍वाइन किया जब उसे कोई जानता नहीं था वह श्‍ाुरूआत के 10 इंजीनियराें में अकेली लडकी थी, सिर्फ पांच साल के फेसबुक करियर में उन्‍होने कंपनी को दुनिया की सबसे बडी सोशल नेटवकिंग साइट बनते हुए देखा
लोग उडाते थे हंसी
रूचि सांघवी ने ग्रैजुएशन पूरा करने के बाद इलेक्ट्रिकल कम्‍प्‍युटर इंजीनियरिंग में मास्‍टर डिग्री के लिये कारनेगी मेलन यूनिवर्सिटी में एडमशिन लिया रूचि अपने पिता के बिजनेस से न जुड कर कुछ अलग करना चाहती थीं
उन्‍होंने कहा ' मैने इंजीनियरिंग में जाने के बारे में सोचा तो  मेरी हंसी उडाई गई लोग मुझसे कहते कि अब तुम आस्‍तीन ऊंची कर किसी फैक्‍ट्री में काम करोगी' यहीं से रूचि की सफलता की शुरूआत हुई इसके बाद उन्‍होंने पलट कर नही देखा
साल 2010 में 30 साल की उम्र में रूचि ने फेसबुक छोडकर अपने पति के साथ मिलकर अपनी खुद की कंपनी ''कोव'' शुरू की फरवरी 2012 में ''कोव'' को 'ड्रॅापबॉक्‍स' नाम की कंम्‍प्‍यूटर डेटा शेयरिंग कपंनी की वाइस प्रेसिडेंट है, वर्तमान समय में 'रूचि' कंपनी की वाइस प्रसिडेंट है, रूचि की उपलब्धियों के चलते उन्‍हे सिलिकॉन वैली की स्‍टार माना जाता है 

मै दिल से दुआ करता इस पत्रिका को की एैसी जानकारी देनी की 



दोस्‍तो आप को इस ब्‍लोग के जरीये मेरे पास जो भी जानकारी है कम्‍प्‍यूटर के बारे में या जो भी जानकारी मुझे मिलती है वो जानकारी आप तक पहुचाने का प्रयास करूगा इस ब्‍लोग से आप को कम्‍प्‍यूटर से जुडी जानकारी ही नही और भी जानकारी मिलेगी आप को इस ब्‍लोग पर आने के लिये धन्‍यवाद

एक टिप्पणी भेजें